Islamic Blog

Islamic Updates

Dua

क्रिसमस डे) की हकीकत

ATTENTION🚫
( क्रिसमस डे) की हकीकत।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अहम सवाल ———————————————-
मेरी क्रिसमस कहना कैसा है..
इसका क्या मतलब है……
क्या हम किसी क्रिस्चियन को मेरी क्रिसमस कह सकते हैं……
__________________
🔬 जवाब 🔬
—————————-
👉 मेरी क्रिसमस का मतलब है…..
अल्लाह के बेटा हुआ है, मुबारक हो।

🚫अल्लाह की पनाह نعوذبااللہ من ذلك🚫

ऐसा अक़ीदा रखना कुफ्र है, जो मुसलमान से ईमान ख़त्म कर देता है।
_____××××××_____
👉 अल्लाह तआला क़ुरआने करीम में इरशाद फरमाता है_____

(قل هو الله أحد الله الصمد لم يلد ولم يولد ولم يكن له كفوا احد) سورة إخلاص. جزء ٣٠

तर्जुमा —— ऐ प्यारे नबी ! आप कह दीजिए , अल्लाह एक है। वो किसी का मोहताज नहीं है। न उसने किसी बेटे को जना। और न उसको किसी ने जना है।और न कोई उसके जैसा हो सकता है।
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””
हम मुसलमान हैं ….. न तो हमें मेरी क्रिसमस कहना चाहिए , और न ही हैप्पी न्यू ईयर।
**********************
ईसा عليه الصلاة والسلام. को ईसाई यानि क्रिस्चियन अल्लाह का बेटा मानते हैं और उनकी पैदाइश की खुशी में क्रिसमस डे मनाते हैं।
तो बराए करम….. मुसलमान होने के नाते कभी….. मेरी क्रिसमस ना कहना।
_________________
25th December से पहले पहले हर मुसलमान भाई तक पहुंचाने की कोशिश कीजिए इस पर आपको अज्र मिलेगा।

Aafreen Seikh

Aafreen Seikh is an Software Engineering graduate from India,Kolkata i am professional blogger loves creating and writing blogs about islam.

Latest posts by Aafreen Seikh (see all)

Comments

comments

Aafreen Seikh is an Software Engineering graduate from India,Kolkata i am professional blogger loves creating and writing blogs about islam.