Islamic Blog

Islamic Updates




गौसे पाक का बचपन

विलादते बा सआदत

हुज़ूर गौसे पाक रहमतुल्लाह तआला अलैहे यकुम रमज़ान बरोज़े जुमुअतुल मुबारक सी. 470 ही. को बगदाद शरीफ के क़रीब क़स्बा जिलान में पैदा हुवे।

हैरत अंगेज़ वाकीआत

🔅हज़रते सय्यिदुना अब्दुल क़ादिर जिलानी रहमतुल्लाहि तआला अलैहे की विलादत बा सआदत के वक़्त बहुत से हैरत अंगेज़ वाकीआत ज़ुहर पज़ीर हुवे

🔅सबसे बड़ी बात तो ये है की जब आप रौनक अफरोज़ आलम हुवे उस वक़्त आप की वालिदए माजिदा हज़रते उम्मुल खैर फ़ातिमा की उम्र 60 साल की थी, इस उम्र में आम तौर पर औरतो को अवलाद से ना उम्मीदी हो जाती है, ये अल्लाह का खास फ़ज़्ल था की इस उम्र में हुज़ूर गौसे आ’ज़म अलैहिस्सलाम उनके बतने मुबारक से पैदा हुवे।

🔅जिस रात हज़रते सय्यिदुना अब्दुल क़ादिर जिलानी रहमतुल्लाह तआला अलैहे की विलादत हुई, उस रात जिलान शरीफ की जिन औरतो के यहाँ बच्चा पैदा हुवा उन सब को अल्लाह ने लड़का ही अता फ़रमाया और हर नव मौलूद लड़का अल्लाह का वाली बना।

🔹आप की विलादत माहे रमज़ानुल मुबारक में हुई और पहले दिन ही से रोज़े रखना शुरू कर दिये, सहरी से ले कर इफ्तार तक आप वालिदए मोहतरमा का दूध न पीते थे।

🔹हज़रते सय्यिदुना गौसे आ’ज़म अलैहिस्सलाम की वालिदए माजिदा उम्मुल खैर फ़ातिमा फ़रमाया करती थी : जब मेरा बेटा अब्दुल क़ादिर पैदा हुवा तो वो रमज़ानुल मुबारक में दिन के वक़्त मेरा दूध नहीं पिता था,

🔹अगले साल रमजान का चांद गुबार की वजह से नज़र न आया तो लोग मेरे पास दरयाफ़्त करने के लिये आए तो मेने कहा की मेरे बच्चे ने दूध नहीं पिया। फिर मालूम हुवा की आज रमज़ान का दिन है और हमारे शहर में ये बात मश्हूर हो गई की सय्यिदो में एक बच्चा पैदा हुवा है जो रमज़ानुल मुबारक में दिन के वक़्त दूध नहीं पिता।

✒हवाला
📚गौसे पाक का बचपन, सफा 9

I am noor aqsa from india kolkata i love the islam and rules i am professional blogger and also seo expert learn islam with us.
mm
mm
I am noor aqsa from india kolkata i love the islam and rules i am professional blogger and also seo expert learn islam with us.