Islamic Blog

Islamic Updates

Month: November 2017

Wazu Ka Bayaan

Wazu Ka Bayaan ※Jab Wazu Karna Hoto Dil Main Wazu Karne Ka Irada Kare BismillAh Hirrahma Nirraheem Kahe ※Duno’n Haath Gatto’n Tak Dhoye ※Phir Miswaak Kare Dahne Haath Se(Miswaak Na Hoto Ungli Se Daant Male) ※Phir 3/Baar Kulli Kare Khoob…

Haiz-o-Nifaas Ka Bayaan Aur Uske Ahkaam Ka Bayaan

◆Haiz Ka Byaan◆ Allah Azza-O-Jal Irshaad Farmata Hai: Ae Mahboob Tum Se Haiz Ke Bare Main Log Sawaal Karte Hain Tum Farma Do Wo Gandi Cheez Hai To Haiz Main Aurato’n Se Bacho Aur Unse Qurbat Na Karo Jab Tak…

*बुढापे की लाठी-“#बहू”*

*बुढापे की लाठी-“#बहू“* लोगों से अक्सर सुनते आये हैं कि बेटा बुढ़ापे की लाठी होता है।इसलिये लोग अपने जीवन मे एक “बेटा” की कामना ज़रूर रखते हैं ताकि बुढ़ापा अच्छे से कटे। ये बात सच भी है क्योंकि बेटा ही…

Ek Bohot Nek Aur Parhezgaar Aurat rehti thi..

Ek Bohot Nek Aur Parhezgaar Aurat rehti thi.. Usne Apne 6 saal k masum Bacche ki bohot Achi Tarbiyat ki thi. Usko sikhaya tha k, Dene wali Zaat sirff Allah ki Hai Aur Namaz Se Allah ki madad hassil kro…..

EK BAAR PARDHEY Mohabbat E Rasoolﷺse Mohabbat ka Wakiya

ASSALAMUALAIKUM .. (EK BAAR PARDHEY Mohabbat E Rasoolﷺse Mohabbat ka Wakiya) Mere SARKAR Se Jisko Mohabbat Ho Nahi Sakti.. Use JANNAT Me Jaane Ki Ijazat Ho Nahi Sakti.. Jo Chaand Se Khele Aur Dhalte Suraj Ko TULU Kar De.. Kisi…

रिज़्क़ में बरकत के लिए कुछ तरीके

रिज़्क़ में बरकत के लिए कुछ तरीके (इनमे से जो जो चाहो वो करो, सारे करो तो और ज़्यादा फ़ायदा होगा) ========================== 1. जब अपनी दुकान या ऑफिस जाएं. तो सबसे पहले जाते ही सलाम करें, चाहे कोई वहां हो…

बिस्तर पर नींद आ जाने से पहले, अपने पहलू मे सोई

बिस्तर पर नींद आ जाने से पहले, अपने पहलू मे सोई, अपनी बीवी के चेहरे को गौर से देखा, उसकी प्यारी सी और नर्म व नाजूक शक्ल पर काफी देर गौर करता रहा, फिर अपने आप से कहा:* ” *क्या…

लोगों में हया शर्म और दीन देखो हुस्न नही

अस्सलामुअलैकुम..मस्ट रीड 👇👇 👉 इससे पहले चार दफ़ा मुख्तलिफ घरों के लड़के उसे रिश्ते से रद कर चुके थे यह पांचवी बार थी वह अपने दोस्तों को मैसेज पर बता रही थी के आज फिर लड़के वाले देखने आ रहे है। दुआ…

जब #औरत मरती है तो मर्द उसका #जनाजा उठाता है, उसकी #तदफीन ये ही मर्द करता है

“✍🏽 जब #औरत मरती है तो मर्द उसका #जनाजा उठाता है, उसकी #तदफीन ये ही मर्द करता है, जब पैदा होती है तो ये ही मर्द उसके कान मे #अजान देते है, उसको बाप के रूप मे सिने से लगाते है, #भाई के रूप मे उसकी हिफाजत करते है, और…

महिलाओं का नरम लहजे में बात और चैट करना

महत्वपूर्ण जानकारी ज़रूर पढें। “हे पैगंबर की पत्नी! तुम आम औरतों की तरह नहीं हो, अगर तुम संयम ( सब्र )विकल्प (आप्शन) करो तो नरम लहजे में बात मत करो कि जो मन में रोग हो वह कोई बुरा विचार…