Islamic Blog

Islamic Updates




Islamic Knowledge

75 कबिरा गुनाह

1. शिर्क करना । [मुस्लिम: 87]
2. ना हक़ क़त्ल करना । [मुस्लिम: 89]

3. जादु करना । [बुखारी: 2766]

4. नमाज़ छोड़ना । [मुस्लिम: 82]

5. ज़कात ना देना । [तबरानी सग़ीर: 935]

6. वालदैन की ना फ़रमानी करना । [बुखारी: 6920]

7. सूद खाना । [मुस्लिम: 89]

8. यतीम का माल खाना । [मुस्लिम: 89]

9. रसूलुल्लाह ﷺ पर झुट बांधना । [मुस्लिम: 4]

10. बिला वजह माहे रमज़ान के रोज़े छोड़ना । [अबु दाऊद: 2396]

11. मैदान ए जिहाद से भागना । [मुस्लिम: 89]

12. ज़िना करना । [मुस्लिम: 86]

13. हाकिम का अपनी अवाम को धोका देना । [मुस्लिम: 2579]

14. शराब पिना । [अहमद: 2453]

15. तकब्बुर [घमंड] करना । [मुस्लिम: 91]

16. झुटी गवाही देना । [इब्न माजह: 2373]

17. लुवात़त [मर्द के साथ ज़िना करना] । [अबु दाऊद: 4462]

18. पाक दामन औरतों पर ज़िना की तोहमत लगाना । [मुस्लिम: 89]

19. बैतुल माल मे ख़यानत करना । [बुखारी: 3074]

20. ज़ुल्म के साथ लोगों का माल छीन लेना । [मुस्लिम: 1612]

21. चोरी करना । [अहमद: 19012]

22. झुटी क़सम खाना । [बुखारी: 6675]

23. झुट बोलना । [मुस्लिम: 2607]

24. ख़ुदकुशी करना । [मुस्लिम: 109]

25. शरियत के ख़िलाफ़ फ़ैसला करना । [हाकिम: 7091]

26. दय्युसी [वह लोग जो अपने घर की औरतों को बे पर्दगी से ना रोके] । [हाकिम: 252]

27. मर्दों का औरतों का और औरतों का मर्दों का तरीक़ा अपनाना । [बुखारी: 5886]

28. मुर्दार, ख़ुन और ख़ंज़ीर का गोश्त खाना । [इनाम: 145]

29. पेशाब के छिंटों से ना बचना । [बुखारी: 216]

30. ना जाएज़ टेक्स वसूल करना । [मुस्लिम: 1695]

31. रियाकारी [दिखावा] करना । [मुस्लिम: 1905]

32. ख़यानत करना । [मुस्लिम: 59]

33. दुनिया के लिये इल्म सिखना । [अबु दाऊद: 3664]

34. इल्म छुपाना । [तिर्मिज़ी: 2658]

35. अहसान जताना । [मुस्लिम: 106]

36. तक़दीर को झुटलाना । [इब्न अबी आसिम: 346]

37. लोगों की छुपी बाते सुनना । [बुखारी: 7042]

38. लानत करना । [मुस्लिम: 109]

39. वादा पुरा ना करना । [बुखारी: 2227]

40. नजुमी या काहन [ग़ैब के दावेदार] को सच्चा मानना । [अबु दाऊद: 3904]

41. शौहर की ना फ़रमानी करना । [मुस्लिम: 1436]

42. रिशतेदारो से रिशता तोड़ना । [मुस्लिम: 2556]

43. तस्वीर बनाना । [मुस्लिम: 2110]

44. चुग़ली करना । [मुस्लिम: 105]

45. नुहा करना । [मुस्लिम: 103]

46. नसब पर फ़ख़र करना । [मुस्लिम: 934]

47. बग़ावत और सर्कशी करना । [मुस्लिम: 2865]

48. मुसलमान पर कुफ़्र का इल्ज़ाम लगाना । [मुस्लिम: 60]

49. मुसलमान को तकलीफ़ देना । [तिर्मिज़ी: 1934]

50. औलिया अल्लाह से दुश्मनी करना । [बुखारी: 6502]

51. तकब्बुर से तेहबन्द लटकाना । [मुस्लिम: 106]

52. मर्द का सोना और रेशम पहेनना । [तिर्मिज़ी: 1726]

53. ग़ुलाम का भाग जाना । [मुस्लिम: 69]

54. ग़ैरूल्लाह के नाम से ज़ुब्ह करना । [हाकिम: 8052]

55. पराई ज़मीन पर क़ब्ज़ा करने के लिये निशान मिटा देना । [हाकिम: 7336]

56. सहाबा ए किराम अलैहिमुर्रिज़वान को बुरा कहना । [मुस्लिम: 2541]

57. अन्सार से बुग़्ज़ रखना । [बुखारी: 3784]

58. बिदअत – गुमराही की तरफ़ बुलाना और बुरा तरीक़ा इजाद करना । [मुस्लिम: 1017]

59. औरतों का बाल जोड़ना, दांत बारीक कराना और जिस्म पर नक़्श बनाना या नाम लिखवाना । [मुस्लिम: 2125]

60. हथयार से मुसलमान की तरफ़ इशारा करना । [मुस्लिम: 2616]

61. किसी दुसरे को अपना बाप बनाना । [मुस्लिम: 63]

62. बद शुगूनी लेना । [तिर्मिज़ी: 1620]

63. सोने चाँदी के बर्तनों मे खाना पिना । [मुस्लिम: 2065]

64. ना हक़ झगड़ा करना । [मुस्लिम: 2668]

65. ग़ुलाम पर ज़ुल्म करना । [अबु दाऊद: 4515]

66. माप तौल मे डंडी मारना । [मुतफ़्फ़ीन: 1-6]

67. अल्लाह के अज़ाब और ग़ज़ब से बे ख़ौफ़ होना । [अएराफ़: 99]

68. अल्लाह की रहमत से ना उम्मीद होना । [मुस्लिम: 2877]

69. अहसान करने वाले की ना शुक्री करना । [अबु दाऊद: 4811]

70. बचा हुआ पानी रोकना । [मुस्लिम: 1566]

71. जानवरों के चहरो पर दाग़ना और मारना । [अबु दाऊद: 2564]

72. जुवा खेलना । [माइदा: 90-91]

73. हरम मे बे दीनी फैलाना । [हज: 25]

74. नमाज़ ए जुमा छोड़ना । [मुस्लिम: 652]

75. मुसलमानों की जासुसी करना । [मुस्लिम: 2494]

[नोट: इस पोस्ट मे ब्यान किया गया 75 कबिरा [बड़ा] गुनाह इमाम ज़हबी अलैहिर्रहमा की किताब “किताबुल कबाएर” से लिया गया है । ]

तौबा करो: अल्लाह पाक अपने बन्दे की तौबा पर उस से भी ज़्यादा ख़ुश होता है जैसे तुम मे से किसी का ऊँट जंगल मे गुम होने के बाद दोबारा मिल जाए । [बुखारी: 5950]

ऐ अल्लाह! हम तुझ से हर तरह की नेकी का सवाल करते हैं और हर तरह के गुनाह से तेरी पनाह मांगते हैं । आमीन

mm
mm
I am noor aqsa from india kolkata i love the islam and rules i am professional blogger and also seo expert learn islam with us.