Islamic Blog

Islamic Updates




Namaz

Aurton Ki Namaz Padhne Ka Sahi Tarika In Hindi

 Aurton Ki Namaz

Aurton Ki Namaz Padhne Ka Tareeqa 

औरतों की नमाज़

हम सुन्नत के मुताबिक़ आज नमाज़ का सही तरीक़ा बयान करेंगे और यहाँ पर आज सिर्फ उन चीज़ों तरीकों को बताना है जिन में मर्द और औरत कि नमाज़ का बहुत ज्यादा फ़र्क़ है |

तकबीर तहरीमा के लिए हाथ उठाने सही का तरीक़ा

सबसे पहले नमाज़ तकबीर तहरीमा से शुरू होता है इस में तकबीर हाथ उठाना सुन्नत है और मर्दो के लिए तो कानों कि लौ तक हाथ उठाना सुन्नत है औरतों के लिए सुन्नत ये है की सिर्फ कन्धों तक हाथ उठायें उस के बाद हाथ बांध लें और हाथ दुपट्टे के अंदर ही तक उठायें और रखें |

हाँथ बाँधने का सही जगह और सही तरीका

Aurton Ki Namaz: तकबीर तहरीमा के बाद नियत के लिए हाथ बांधना सुन्नत है मर्द और औरत का नमाज़ में हाथ बांधने का तरीका बिलकुल अलग है जिसके बारे में हमने निचे के लेख में जिक्र क्या है औरतें सीने (Chest) पर हाथ बांधेंगी इस तरह कि  दाहिने हाथ की हथेली को बाएं हाथ की हथेली कि पुष्ट पर रखेंगी

औरतो के रुकू का तरीक़ा

मर्दो का रुकू करने का तरीका औरतों से बहुत अलग है मर्दों के रुकू का सही तरीक़ा ये है की वो इतना ही रुकू करने के लिए झुकें कि उनकी पीठ और सर एक दूसरे के बराबर हो जाये और अपने घुटनों को मज़बूती से पकड़ लें

लेकिन औरतें का रुके करने का तरीका मर्दो से बिलकुल अलग है औरतें या लड़कियां पूरे तौर पर रुकू के लिए न झुकें बल्कि ज़रा सा झुकें घुटनों को न पकड़ें बल्कि उन पर सिर्फ हाथ रखें यानी सिर्फ इतना झुकें कि हाथ घुटनों तक पहुँच जाएँ|

सजदा करने का सही तरीका

औरतें पुरा सिमट कर हमेशा सजदा करें इस तरह की उस के पुरा जिस्म के हिस्से एक दूसरे से मिले हुए हों हाथ बगलों से और रानें पेट से मिली हुई हों और अपने दोनों हाथों को ज़मीन पर बिछा दें और अपने दोनों पैरों को दाहिनी तरफ निकल दें उसके बाद इत्मीनान से सजदा करें |

क्या औरत पर ईद की नमाज़ है

औरत या लड़कियों पर जुमे की नमाज़ की तरह  ईद की नमाज़ भी नहीं है क्यूंकि ईद की नमाज़ जमात के साथ अदा किया जाता है और औरत को जमात में हाज़िर होने से सख्त हिदायत दिया गया है लिहाजा मना किया गया है

नमाज़ के वक़्त बैठने का तरीक़ा

औरतें नमाज़ अदा करते वक़्त इस तरह बैठे कि अपने दोनों पैरों को दाहिनी तरफ निकाल दे और फिर उस पर बैठ जाये और अपने हांथो की उँगलियाँ को मिलाये रखे

क्या औरत पर जुमा की नमाज़ फ़र्ज़ है

क्या औरतों पर जुमा का नमाज़ फ़र्ज़ है औरत पर जुमा की नमाज़ फ़र्ज़ नहीं है औरतें लड़कियां जुमे के दिन अपने घर में ज़ुहर की नमाज़ पढ़ें

Aafreen Seikh is an Software Engineering graduate from India,Kolkata i am professional blogger loves creating and writing blogs about islam.
Latest posts by Aafreen Seikh (see all)
Aafreen Seikh is an Software Engineering graduate from India,Kolkata i am professional blogger loves creating and writing blogs about islam.