Islamic Blog

Islamic Updates

Islamic Knowledge

60 सूरए मुम्तहिनह -पहला रूकू

अल्लाह के नाम से शुरू जो बहुत मेहरबान रहमत वाला (1)(1) सूरए मुम्तहिनह मदनी है इसमें दो रूकू, तेरह आयतें, तीन सौ अड़तालीस कलिमें, एक हज़ार पाँच सौ दस अक्षर हैं. ऐ ईमान वालो! मेरे और अपने दुशमनों को दोस्त…

मेरी क़ौम की बहनो तुम्हे दाढ़ी से क्यो नफरत है

मेरी क़ौम की बहनो तुम्हे दाढ़ी से क्यो नफरत है याद करो वो दिन जिस दिन तुम दुनिया मे आई थी वो तुम्हारे कान मे सदाऐ तौहीद सबसे पहले आज़ान के ज़रिये बुलंद किया वो और कोई नही दाढ़ी टोपी…

इस्लाम में औरत

*🌹ﺑِﺴْــــــــــــــــﻢِﷲِﺍﻟﺮَّحْمٰنِﺍلرَّﺣِﻴﻢ🌹* *🌹इस्लाम में औरत🌹* 🧕🏻 *कंज़ुल ईमान- और जब उनमें से किसी को बेटी होने की खुशखबरी दी जाती है तो दिन भर उसका मुंह काला रहता है और गुस्सा खाता है* *📚पारा 14, सूरह नहल, आयत 58* *यानि लड़कियों की…

34 सूरए सबा पहला रूकू

अल्लाह के नाम से शुरू जो बहुत मेहरबान रहमत वाला (1) (1) सूरए सबा मक्का में उतरी सिवाय आयत “व यरल्लज़ीना ऊतुल इल्मो” (आयत -6). इसमें छ रूकू चौवन आयतें, आठ सौ, तैंतीस कलिमे और एक हज़ार पाँच सौ बारह…

हज़रत बिलाल रज़ियल्लाहु तआला अन्हु

हज़रत बिलाल रज़ियल्लाहु तआला अन्हु को हुजुर सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम से बडी मुहब्बत थी | हुजूर सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का जब विसाल हो गया तो आप मदीने की गलियों मे यह कहते फिरते थे कि लोगो !! तुम ने कही…

33 सूरए अहज़ाब- नवाँ रूकू

ऐ ईमान वालो (1)(1) नबीये करीम सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम का अदब और आदर करो और कोई ऐसा काम न करना जो उनके दुख का कारण हो, और उन जैसे न होना जिन्हों ने मूसा को सताया (2)(2) यानी उन बनी…

MUSHKIL SAWALAAT

Tauraat Ke Ek Aalim Ne Jiska Naam Mujer Tha! Ek Martaba Hazrat Ali Se Pucha Ki Mere kuch Sawalon Ke Jawab Dijiye! Hazrat Ali Ne Farmaya, Pucho, Kya Puchte Ho? Usne Pucha- Batayiye,_ _(1)🌸Wo Kaunsa Mard Hain Jiska Na Baap…

हर घुंगूरू के साथ शैतान होता है

_हजरते अब्दुल्लाह बिन जुबैर रजि़अल्लाहु अन्हु फरमाते है कि हमारे यहॉ की एक लौडी़ हजरते जुबैर रजिअल्लाहु अन्हु की लड़की को हजरते उमर रजिअल्लाहु अन्हु के पास लाई और उस के पॉव मे घूंगूरू थे हजरते उमर फारूक रजि़अल्लाहु अन्हु…

33 सूरए अहज़ाब- पाँचवां रूकू

बेशक मुसलमान मर्द और मुसलमान औरतें (1)(1) अस्मा बिन्ते अमीस जब अपने शौहर जअफ़र बिन अबी तालिब के साथ हबशा से वापिस आई तो नबीये करीम सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम की बीबियों से मिलकर उन्हों ने पूछा कि क्या औरतों के…

Aaj Shadi Shuda Zindagi Kamyab Kyu Nahi Hai

*Aaj Shadi Shuda Zindagi Kamyab Kyu Nahi Hai* Jo Islam Agar kisi Sone Wale ko Taklif Hoti ho to Buland Aawaz Se QURAAN Padhne ki bhi Izaazat Nahi deta Aaj Usi Islam Ko Manne Waale Is Qadar Behayayi ke Shaitani…