Islamic Blog

Islamic Updates




Islamic Knowledge

Juma khutba In Hindi | जुमा का खुतबा हिंदी में

जुमा पढने के लिए जुमा का खुतबा सुनना शर्त है बगैर खुतबा पढे जुमा की नमाज अदा नहीं होती
इस लिए आसान तरीके से हम आप को बतायेगें
अस्सलामु अलैकुम राहेमुतुल्लाहि व बरकातु प्यारे इस्लामी भईयों और बहनों जुमा का खुतबा हिंदी में  मौजुदा हालात के पेशे नज़र juma khutba in hindi जुमा के मुख्तसर खुतबे है ।
हमारा ये जुमा का खुतबा हिंदी में डालने का मतलब ये है । की अभी हमारे मुल्क के हालात ठीक नही है corona virus की वजह से इस  वजह से lockdown हमारे मुल्क में लगादिया है ।
अल्लाह तबारक व तआला के फजलो करम से अंक़रीब माहे रमज़ानुल मुबारक की आमद आमद .जो यक़ीनन बडी खैर
व बरकत और नेकियों का महीना है. जिसमें मुसलमान खूसूसी इबादतों का एहतमाम कर के नेकियों से मालामाल होते हैं. लेकिन
इस साल कोरोना वायरस corona virus पूरी इंसानियत को सख़्त आज़माइश में मुबतेला कर दिया है जिससे बचने के लिये समाजी फासले (Social Distancing) को बरक़रार रखना ज़रूरी क़रार दिया गया है. इसी लिये हुकूमत ने मुल्क भर में लॉकडाउन नाफिज़ कर रखा है.इन हालात में घरों से बाहर निकलना, एक सात मे जमा होना सख्त मना है. इस सिलसिले में हमने जुमा का खुतबा हिंदी में juma khutba in hindi
के लिये माहे रमज़ानुल मुबारक में इबादतों की अदाएगी से पेश किया है । इस लिए की हमारे कई मुस्लिम भाई का जुमा का खुतबा नही हो रहा था । इसी लिए हमने juma khutba in hindi जुमा का खुतबा हिंदी में पेश किया है ।

पहेला जुमा खुतबा हिंदी में   First Juma Khutba In Hindi


अलहमदुलिल्लाही नहमदुहु व नसतईनुहु व नसतगफिरुहुव नऊजुबिल्लाही मिन शुरुरी अन फुसीना व मिन सय्यीआतीआमालीना व अशहदु अल लाइलाहा इललल्लाहु वाहदहुला शरिकालहु व अशहदु अन्ना मुहम्मदन अबदुहु व रसुलुहु ०अम्मा बाद।फआऊजु बिल्लाही मिनश्शैतानीररजीम बिस्मील्लाहीर रहेमान निररहीम० कुलहुवल्लाहु अहद अल्लाहुस्समद लम यलीद वलम युलद वलम यकुल्लहु कुफुवन अहद ” सदाकल्लाहुल अज़िम”

पहला खुतबा पढने के बाद थोड़ी देर के लिए बैठे
इस वक्त दरुद शरीफ पढें या अपने लिए दुआ करें लेकिन आहिस्ता से बुलन्द आवाज से नहीं फिर दूसरा खुतबा के लिए उठें और पढें

दूसरा जुमा खुतबा हिंदी में   Second Juma Khutba In Hindi


अलहमदुलिल्लाही रब्बिल  आलमीन वल आकीबतु लिलमुत्तीकीन अल्लाहुम्मा सल्ली अला मुहम्मद व आला आली मुहम्मद व बारीक व सल्लीम अल्लाहुम्मरफा अन्नल बलाआ वल वबाआ० रब्बना आतीना फिददुनिया हसनतौ व फिल आखीरती हसनतौ वकीना अज़ाबन्नार० इन्नल्लाहा या मुरु बिल अदली वल इहसानी व ईताई ज़िलकुरबा व यनहा अनिल फहशाही व मुनकरी व बगयी० यइजुकुम लअल्लकुम तज़क्करुन० वल्लाहु यालमु मा तसनऊन०

mm
Latest posts by Noor Saba (see all)

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

mm
Asalam-o-alaikum , Hi i am noor saba from Jharkhand ranchi i am very passionate about blogging and websites. i loves creating and writing blogs hope you will like my post khuda hafeez Dua me yaad rakhna.